32.6 C
Raipur
Monday, May 20, 2024

किसके हाथ में कैंडी और कौन होगा क्रश: CM बघेल का दावा- कांग्रेस जीतेगी ‘राजनांदगांव’, डॉ. रमन बोले- भूपेश के हाथ से खिसक रहा ‘पाटन’

रायपुर. न्यूजअप इंडिया
छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा-कांग्रेस सहित राजनीतिक दलों में सियासी वार शुरू हो गई है। सत्तारूढ़ कांग्रेस और मुख्य विपक्षी पार्टी भाजपा के नेताओं के बीच जमकर सियासी तीर चल रहे हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह एक-दूसरे पर तीखा राजनीतिक हमला करने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे हैं। सोशल मीडिया से लेकर चुनावी मैदान तक आरोप-प्रत्यारोप की बौछारें हो रही हैं। बयानबाजी राजनीतिक और व्यक्तिगत दोनों तरह की हो रही है। भूपेश जहां राजनांदगांव सीट से कांग्रेस के जीतने का दावा कर रहे हैं वहीं डॉ. रमन पाटन से भूपेश की जमीन खिसकने की बात कह रहे हैं। अब आने वाला समय ही बताएगा कि किसके हाथ में कैंडी होगी और कौन क्रश होने वाला है।

शनिवार को पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह राजनांदगांव गए थे। यहां डॉ. रमन ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि ‘रमन सिंह की चिंता छोड़ दें। भूपेश बघेल सिर्फ रमन सिंह के नाम का माला जपते रहते हैं, इतना राम नाम की माला जपते तो भूपेश का उद्धार हो जाता। राजनांदगांव की चिंता भूपेश बघेल छोड़ दें। यहां की जनता की चिंता करने के लिए रमन सिंह हैं। भूपेश के हाथ से पाटन विधानसभा खिसक रहा है, वह अपनी चिंता करें। डॉ. रमन ने कहा कि भूपेश बघेल को सपने में भी रमन सिंह दिखते हैं। उनके मन में भय आ गया है। रमन सिंह ने कहा कि भूपेश के हाथ से पाटन खिसक रहा है। वह राजनांदगांव की चिंता छोड़ दें, उसके लिए रमन सिंह है।

‘BJP नहीं रमन, अमन और अडानी लड़ रहे चुनाव’
दरअसल, राजनांदगांव में संकल्प शिविर कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा कि इस बार राजनांदगांव जिले की सभी सीटों पर कांग्रेस का कब्जा होगा। राजनांदगांव विधानसभा सीट भी कांग्रेस जीतेगी। सीएम भूपेश बघेल ने यह भी कहा कि पिछले साल राजनांदगांव एक सीट रह गई थी। इस बार यह सीट कार्यकर्ता कांग्रेस की छोली में डालने वाली है। भारतीय जनता पार्टी चुनाव नहीं लड़ रही बल्कि रमन सिंह, अमन सिंह और अडानी चुनाव लड़ रहे हैं। इस कार्यकाल में सबसे ज्यादा नुकसान अडानी को हुआ है। उसकी गिद्ध निगाह छत्तीसगढ़ पर है। भाजपा को वोट देना मतलब अडानी को ताकतवर बना है।

‘रमन के खिलाफ गिरीश, भूपेश के खिलाफ विजय’
बता दें कि भारतीय जनता पार्टी ने पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. रमन सिंह को राजनांदगांव से उम्मीदवार बनाया है। वहीं कांग्रेस पार्टी ने खनिज विकास निगम के अध्यक्ष गिरीश देवांगन को प्रत्याशी घोषित किया है। पिछले चुनाव में कांग्रेस ने रमन सिंह के खिलाफ करुणा शुक्ला को उतारा था। वहीं पाटन विधानसभा में सीएम भूपेश बघेल को कांग्रेस ने टिकट दिया है। उनके खिलाफ भारतीय जनता पार्टी ने दुर्ग सांसद विजय बघेल को प्रत्याशी बनाया है। सांसद विजय बघेल रिश्ते में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के भतीजे हैं। अब दोनों ही सीटों पर प्रदेश की नजर रहेगी।

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here