25.1 C
Raipur
Friday, June 21, 2024

‘हम तो चाहते हैं, आदरणीय नरेंद्र मोदी फिर से मुख्यमंत्री बनें, देश का विकास हो’ CM नीतीश कुमार की फिसली जुबान

पटना.एजेंसी। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अपने चुनावी भाषणों में लगातार स्लिप ऑफ टंग के शिकार हो रहे हैं। रविवार 26 मई को एक बार फिर चुनावी सभा में नीतीश कुमार की जुबान फिसल गई। नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मुख्यमंत्री बनाने की कामना कर दी। दरअसल, नीतीश कुमार आज पटना साहिब लोकसभा क्षेत्र के दनियावां इलाके में थे। यहां एनडीए प्रत्याशी और बीजेपी नेता पूर्व केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के समर्थन में एक जनसभा का आयोजन किया गया था। इसी जनसभा में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार मंच पर भाषण दे रहे थे। इसी दौरान उन्होंने भाषण के बीच लोगों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक बार फिर 400 से अधिक सीटों के साथ मुख्यमंत्री बनाने की बात कही।

नीतीश कुमार ने कहा कि ‘हम तो चाहते हैं बिहार की 40 सीट हैं। चालीसों सीट हम लोग जीतें और देशभर में 400 से भी ज्यादा सीटें जीतें और आदरणीय नरेंद्र मोदी जी फिर मुख्यमंत्री बनें। देश का विकास हो, बिहार का विकास हो, समृद्ध हो।’ सीएम नीतीश के ऐसा कहने पर एक बार लोग चौंक गए। वहां मौजूद दूसरे नेताओं ने सीएम को इस बारे में याद दिलाया, तो उन्होंने सुधार किया और कहा कि पीएम मोदी तो एक बार फिर देश के प्रधानमंत्री बनेंगे ही। दरअसल, नीतीश कुमार नरेंद्र मोदी को तीसरी बार प्रधानमंत्री बनाने की बात कहते-कहते मुख्यमंत्री बोल गए। नीतीश कुमार का यह वीडियो सोशल मीडिया में भी वायरल हो रहा है।

‘लालू यादव और राजद पर साधा निशाना’
रैली के दौरान नीतीश कुमार ने पूर्व केंद्रीय मंत्री लालू प्रसाद यादव और राजद पर जमकर हमला बोला। नीतीश कुमार ने कहा कि 2005 से पहले बिहार कैसा था, ये सब लोग जानते हैं। उस समय शाम होते ही कोई डर की वजह से अपने घर से निकलने की हिम्मत नहीं करता था। काफी झगड़े होते थे, स्वास्थ्य और शिक्षा बदहाल थी। सड़कों की हालत जर्जर थी। सत्ता में रहते हुए उन लोगों ने कोई काम नहीं किया। सीएम ने कहा कि अब बिहार में हिंदू-मुस्लिम के झगड़े नहीं होते हैं। बिहार की शिक्षा और स्वास्थ्य व्यवस्था में सुधार हुआ है। अब राज्य का तेजी से विकास हो रहा है।

‘नवादा में 400 सीट को 4000 बोल गए थे’
बता दें कि 7 अप्रैल को नवादा लोकसभा क्षेत्र चुनावी प्रचार के दौरान सीएम नीतीश की जुबान फिसल गई थी। उस वक्त मंच पर पीएम मोदी भी मौजूद थे। उन्होंने कहा था- “आदरणीय प्रधानमंत्री जी का दसवां साल चल रहा है। फिर तो आगे रहबे करेंगे। पांच साल में कोई दिक्कत नहीं। हमको पूरी उम्मीद है कि चार… चार हजार से ज्यादा एमपी रहेंगे इनके पक्ष में। हम यही अनुरोध करने आएं हैं। पूरा दीजिए।” देश में 543 संसदीय क्षेत्र हैं और इतने ही सांसद चुने जाते हैं। बिहार में चालीस सीटें हैं। पीएम मोदी ने इस बार 400 पार का लक्ष्य रखा है, लेकिन मुख्यमंत्री 400 की जगह चार हजार बोल गए। सीएम नीतीश के इस बयान पर खूब किरकिरी हुई थी।

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here