33.1 C
Raipur
Saturday, May 18, 2024

पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह बने विधानसभा अध्यक्ष, CM विष्णुदेव, चरणदास ने रखा प्रस्ताव, भूपेश बघेल सहित इन नेताओं ने किया समर्थन

रायपुर. न्यूजअप इंडिया
छत्तीसगढ़ की छठवीं विधानसभा के लिए पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह को सर्वसम्मति से विधानसभा का अध्यक्ष चुन लिया गया। सीएम विष्णुदेव साय, चरणदास महंत, बृजमोहन अग्रवाल, केदार कश्यप और अजय चंद्राकर ने प्रस्ताव रखा, जिसका डिप्टी सीएम अरुण साव, पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, डिप्टी सीएम विजय शर्मा, भावना बोहरा और पुन्नुलाल मोहले ने समर्थन किया। सभी नवनिर्वाचित सदस्यों ने हाथ उठाकर सर्वसम्मति से डॉ. रमन सिंह को विधानसभा का अध्यक्ष चुना है। विधानसभा का अध्यक्ष चुनने के बाद मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय और नेता प्रतिपक्ष डॉ. चरणदास महंत ने डॉ. रमन सिंह को विधानसभा अध्यक्ष की आसंदी तक पहुंचाया।

बता दें कि छत्तीसगढ़ विधानसभा का शीतकालीन सत्र 19 दिसंबर से शुरू हुआ है। तीन दिवसीय विशेष सत्र 21 दिसंबर तक चलेगा। सत्र के पहले दिन प्रोटेम स्पीकर प्रोटेम स्पीकर रामविचार नेताम ने सभी नवनिर्वाचित विधायकों को शपथ दिलाई है। सीएम विष्णुदेव साय, नेता प्रतिपक्ष डॉ. चरण दास, डिप्टी सीएम अरुण साव, डिप्टी सीएम विजय शर्मा ने छत्तीसगढ़ी भाषा में पद एवं गोपनीयता की शपथ ली। एक विधायक विद्यावती सिदार और प्रेमचंद पटेल में प्राचीन भाषा संस्कृत में शपथ ग्रहण किया। कवासी लखमा को बोलकर शपथ दिलवाया गया। विधानसभा अध्यक्ष के निर्वाचन के बाद वरिष्ठ और नए विधायकों ने सदन और अध्यक्ष को शुभकामनाएं देते आभार भी जताया। पूर्व सीएम भूपेश बघेल ने कहा, हमारी सरकार में विपक्ष को बात रखने का भरपूर समय मिलता रहा। अब हम विपक्ष में हैं। हमें आशा ही नहीं बल्कि पूर्ण विश्वास है कि विपक्ष को अपनी बात रखने का भरपूर समय मिलेगा।

आप जहां अभी बैठे हैं, वो मेरा अतीत है: महंत
स्पीकर चुने जाने के बाद मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय ने रमन सिंह को बधाई दी। इसके साथ ही सीएम और नेता प्रतिपक्ष ने रमन सिंह को स्पीकर की कुर्सी पर आसीन कराया। विष्णुदेव साय, नेता प्रतिपक्ष चरण दास महंत ने भी अपने दल की ओर से स्पीकर को बधाई दी। चरणदास महंत ने कहा कि विपक्ष ने भी आपको अपना समर्थन दिया है। 15 साल आपने मुख्यमंत्री के तौर पर प्रदेश की सेवा की है, अब विधानसभा अध्यक्ष के तौर पर आप संसदीय परंपरा के उच्च मापदंड को स्थापित करेंगे। महंत ने मजाकिया अंदाज में कहा कि आप जहां अभी बैठे हैं, वो मेरा अतीत है, मैं अभी जहां बैठा हूं, वो मेरा वर्तमान है..और अतीत का वर्तमान के प्रति सदैव सम्मान रहा है। हम सब विश्वास रखते हैं कि संसदीय प्रक्रियाओं को उंचाई तक पहुंचाने में हम कामयाब रहेंगे।

विधानसभा अध्यक्ष के लिए 5 प्रस्ताव आए
प्रोटेम स्पीकर रामविचार नेताम ने विधानसभा अध्यक्ष के लिए डॉ. रमन सिंह के नाम पर आए 5 प्रस्ताव की जानकारी दी। सबसे पहले सीएम विष्णुदेव ने स्पीकर के लिए रमन सिंह के नाम का प्रस्ताव रखा, जिसका समर्थन डिप्टी सीएम अरुण साव ने किया। इसी प्रकार नेता प्रतिपक्ष डॉक्टर चरणदास महंत ने दूसरा प्रस्ताव रखा, जिसका समर्थन पूर्व सीएम भूपेश बघेल ने किया। तीसरा प्रस्ताव बृजमोहन अग्रवाल ने रखा जिसका समर्थन पुन्नूलाल मोहले ने किया। चौथा प्रस्ताव अजय चंद्राकर ने रखा जिसका समर्थन डिप्टी सीएम विजय शर्मा ने किया। अंतिम प्रस्ताव केदार कश्यप ने रखा, जिसका समर्थन भावना बोहरा ने किया। इसके बाद प्रोटेम स्पीकर ने मत विभाजन कराया, जिसमें सदन के सभी सदस्यों ने हाथ उठाकर रमन सिंह को विधानसभा अध्यक्ष बनाने की सहमति दी। इसके बाद सर्वसम्मति से प्रोटेम स्पीकर ने रमन सिंह को स्पीकर घोषित कर दिया। इस निर्वाचन का पक्ष-विपक्ष के सभी सदस्यों ने स्वागत करते हुए डॉ. रमन सिंह को बधाई दी।

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here