33.1 C
Raipur
Thursday, June 13, 2024

‘कितना कमीशन लेकर संरक्षण दे रहे हैं मुख्यमंत्री जी?’, भूपेश ने सोशल मीडिया पर क्यों लिखा ऐसा…?, BJP ने क्या कहा यह भी जानिए…

रायपुर. न्यूजअप इंडिया
छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम भूपेश बघेल ने मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय पर चिटफंड कंपनियों पर कार्रवाई को लेकर निशाना साधा है। भूपेश ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट X पर लिखा- ‘कितना कमीशन लेकर संरक्षण दे रहे हैं मुख्यमंत्री जी? या फिर भाजपा को चंदा मिल गया? लुटेरों की पार्टनर भाजपा सरकार के आते ही चिटफंड कंपनियों पर कार्रवाई अटक गई है।’ भूपेश ने कितने में डील हुई है सांय-सांय…? पोस्ट करते हुए अपने कार्यकाल की कुछ तस्वीर साझा की है।

भूपेश बघेल ने अपने पोस्ट पर यह भी लिखा है कि ‘हमने राज्य के 81 हजार 204 पीड़ित निवेशकों को 37 करोड़ 92 लाख 99 हजार 656 रुपये की राशि लौटाई थी। साथ ही 208 चिटफंड कंपनियों के खिलाफ 462 प्रकरण दर्ज किए गए थे और इनसे संबंधित 700 से अधिक डायरेक्टर्स/ पदाधिकारियों की गिरफ्तारी भी की थी।’ दरअसल, एक मीडिया में चिटफंड कंपनियों पर कार्रवाई अटकने की खबर पर भूपेश बघेल ने प्रदेश की विष्णुदेव साय सरकार पर हमला बोला है।

भूपेश थोड़ा इंतजार करें, अब चिटफंड कंपनियों की जांच का भी नंबर आएगा: भाजपा
भूपेश बघेल के पोस्ट पर पलटवार करते हुए भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता केदारनाथ गुप्ता ने कहा है कि पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल थोड़ा इंतजार कर लें, चिटफंड कंपनियों के नाम पर घोटाले की जांच भी होगी। भाजपा की प्रदेश सरकार पर मिथ्या आरोप लगाकर प्रलाप करते भूपेश बघेल की बेसब्री दरअसल उनके डर को सामने ला रही है। गुप्ता ने कहा कि बघेल ने प्रदेश की भाजपा सरकार पर कमीशनखोरी का आरोप लगाकर चिटफंड कंपनियों पर कार्रवाई अटकाने की बात कही है और चिटफंड कंपनियों पर हुई ‘तथाकथित’ कार्रवाई के नाम पर एक बार फिर अपने मुँह मियाँ मिठ्ठू बन रहे हैं।

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता गुप्ता ने कहा कि किसी काम को अटकाना, भटकाना और लटकाना कांग्रेस के डीएनए में है। भाजपा जो कहती है, वह करती है और जो कहा है, वह करके दिखाया भी है। यकीनन भाजपा की इसी दृढ़ राजनीतिक इच्छाशक्ति से बघेल खौफजदा हैं और अनर्गल प्रलाप करके अपने बचाव की पतली गली तलाश रहे हैं। जिस तरह पीलिया के मरीज को सब कुछ पीला-पीला नजर आता है, उसी तर्ज पर कांग्रेसियों को हर जगह चंदाखोरी, कमीशनखोरी ही नजर आती है, लेकिन बघेल की ये तमाम कोशिशें नाकामयाब होंगी, यह भी तय है, इसलिए बघेल अभी थोड़ा इंतजार कर लें। गुप्ता ने कहा कि अभी तो बघेल सरकार के कार्यकाल का कोयला फंड घोटाला, चावल घोटाला, शराब घोटाला, पीएससी भर्ती घोटाला समेत तमाम घोटालों की जांच हो रही है और अपराधी सींखचों के पीछे जा रहे हैं। बघेल यह बात गाँठ बांध लें कि नंबर तो सबका आएगा ही आएगा। श्री गुप्ता ने कहा कि अब चिटफंड कंपनियों का भी नंबर आने वाला है। भाजपा के सुशासन और कानून के राज में कोई भी अपराधी बचेगा नहीं।

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here