33.1 C
Raipur
Wednesday, May 29, 2024

पर्यटकों के लिए अच्छी खबरः कूनो नेशनल पार्क के पीपलबाड़ी और अहेरा गेट खुले, चीतों के कारण बंद रहेगा टिकटोली द्वार

भोपाल. न्यूजअप इंडिया
मध्य प्रदेश सहित देश के पर्यटकों के लिए अच्छी खबर है। 1 अक्टूबर से श्योपुर के कूनो नेशनल पार्क के दो गेट को खोल दिया गया है। पर्यटक अब कभी भी पीपलबाड़ी और अहेरा गेट से कूनो की सैर कर सकेंगे। हालांकि, टिकटोली का मुख्य गेट अभी भी बंद रहेगा। चीतों के बाड़े में बंद रहने की वजह से फिलहाल पर्यटक चीतों का दीदार भी नहीं कर सकेंगे, लेकिन तेंदुआ, भालू, लकड़बग्घा, हिरण, चीतल से लेकर दूसरे वन्य जीवों को पर्यटक देख सकेंगे।

बता दें कि वन्य जीवों के प्रजनन काल के दौरान पर्यटकों की आवाजाही बंद कर दी जाती है, ताकि शोरगुल और लोगों की आवाजाही से वन्य जीव डिस्टर्ब न हो। हर साल 30 जून से 30 सितंबर तक यानी 3 महीने के लिए कूनो नेशनल पार्क सहित देशभर के अभ्यारण को पर्यटकों के लिए बंद कर दिया जाता है। अब यह अवधि पूरी हो गई है, इसलिए एक अक्टूबर से फिर से कूनो नेशनल पार्क के गेट को खोल दिया गया है। वन विभाग ने अहेरा गेट पर 1 अक्टूबर को पहुंचे कुछ पर्यटकों का स्वागत फूलों का हार पहनाकर किया। प्रवेश द्वार पर वेलकम भी लिखा गया है।

नामीबिया और साउथ अफ्रीका से लाए गए हैं चीते
अब पर्यटक पीपलवाड़ी और अहेरा गेट से कूनो के अंदर घूमने जा सकेंगे। टिकटोली के मुख्य गेट को फिलहाल बंद ही रखा गया है। इसके पीछे की वजह यह है कि इसी गेट के अंदर चीतों का बड़ा बाड़ा है। ऐसे में यहां से आवाजाही होने पर चीतों को स्ट्रेस हो सकता है। साथ ही उनकी सुरक्षा से जुड़े कई मुद्दे भी हैं, इसलिए विभाग के अधिकारियों ने यह निर्णय लिया है कि फिलहाल यह गेट पर्यटकों के लिए बंद रहेगा। बता दें कि कूनो नेशनल पार्क में नामीबिया और साउथ अफ्रीका से कुल 20 चीते लाए गए हैं। जब चीतों को लाया गया तब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी कूनो पार्क गए थे।

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here