25.1 C
Raipur
Friday, June 21, 2024

कोयला घोटाले और महादेव सट्टा केस की रायपुर कोर्ट में सुनवाई, सौम्या चौरसिया की जमानत याचिका पर फैसला सुरक्षित

रायपुर. न्यूजअप इंडिया
छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर की विशेष अदालत में शुक्रवार का दिन काफी गहमा गहमी भरा रहा। यहां तीन मामलों में सुनवाई हुई। शराब घोटाले, महादेव बैटिंग एप और कोल लेवी स्कैम में कोर्ट ने दोनों पक्षों के वकीलों को सुना। महादेव सट्टा केस में निलंबित ASI चंद्रभूषण वर्मा की बेल पीटिशन को कोर्ट ने खारिज कर दिया, जबकि महादेव सट्टा केस में आरोपी नितिन की जमानत याचिका पर कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा है, जिसमें 15 अप्रैल को सुनवाई होगी।

छत्तीसगढ़ के चर्चित कोयला घोटाला केस में जेल में बंद राज्य सेवा की निलंबित अधिकारी सौम्या चौरसिया की जमानत याचिका पर अब कोर्ट 16 अप्रैल को फैसला सुनाएगी। शुक्रवार को कोर्ट में सुनवाई हुई, जिसके बाद न्यायालय ने 16 अप्रैल तक के लिए फैसला सुरक्षित रखा है। बता दें कि सौम्या, पूर्व सीएम भूपेश बघेल की उप सचिव थी। उन्हें कोयला घोटाला और मनी लॉन्ड्रिंग केस में 2 दिसंबर 2022 को गिरफ्तार किया गया था। इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने उनकी जमानत याचिका को खारिज करते हुए गलत तथ्य प्रस्तुत करने पर उनके खिलाफ जुर्माना लगाया था।

ASI चंद्रभूषण वर्मा की जमानत याचिका खारिज
ED के वकील सौरभ पांडेय ने बताया कि शुक्रवार को अतुल कुमार श्रीवास्तव की स्पेशल कोर्ट में महादेव सट्टा एप मामले में नितिन टिबरेवाल और कोयला घोटाला मामले में सौम्या चौरसिया द्वारा जमानत याचिका लगाई गई थी। दोनों पक्षों की तर्कों को सुनने के बाद कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा है। इस मामले में नितिन टिबरेवाल की जमानत याचिका पर सुनवाई 15 अप्रैल को होनी है और सौम्या चौरसिया की जमानत याचिका पर सुनवाई 16 अप्रैल को होगी। महादेव सट्टा मामले के दूसरे आरोपी ASI चंद्रभूषण वर्मा की जमानत याचिका को कोर्ट ने खारिज कर दिया है।

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here