32.6 C
Raipur
Monday, May 20, 2024

महादेव बैटिंग एप: रवि उप्पल दुबई से गिरफ्तार, भारत लाया जाएगा, डॉ. रमन बोले- सट्टेबाजों का संरक्षण तब तक ही था जब तक कांग्रेस सरकार थी

रायपुर. न्यूजअप इंडिया
छत्तीसगढ़,मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र सहित कई राज्यों में सुर्खियों में चल रहे महादेव बैटिंग एप को लेकर बड़ी खबर सामने आ रही है। मनी लॉंड्रिंग की जांच कर रही प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने महादेव सट्‌टा एप के संचालकों में से एक रवि उप्पल को गिरफ्तार किया है। रवि उप्पल की गिरफ्तारी दुबई से हुई है। अब रवि उप्पल को भारत लाने की तैयारी की जा रही है। वहीं मुख्य आरोपी सौरभ चंद्राकर के खिलाफ इंटरपोल ने रेड कॉर्नर नोटिस पहले ही जारी किया है। महादेव बैटिंग एप को लेकर ईडी छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश सहित कई राज्यों में जांच कर रही है। इधर पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने रवि उप्पल की गिरफ्तारी पर पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार पर तंज कसते हुए हमला किया। उन्होंने कहा- सट्टेबाजों का संरक्षण तब तक ही था जब तक कांग्रेस की सरकार थी।

मिली जानकारी के मुताबिक रवि उप्पल को पिछले हफ्ते दुबई में गिरफ्तार किया गया था और ED के अधिकारी उसे भारत लाने दुबई के अधिकारियों के संपर्क में हैं। रवि उप्पल के खिलाफ छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र में अपराध दर्ज है। छत्तीसगढ़ में पुलिस ने अपराध दर्ज किया है। लगभग 10 हजार करोड़ रुपये की मनी लांड्रिंग की बात कही जा रही है। महाराष्ट्र में 15 हजार करोड़ ठगी का केस दर्ज किया गया है। महादेव सट्टेबाजी ऐप से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ईडी जांच कर रही है। गिरफ्तार आरोपी रवि उप्पल महादेव एप के दो मालिकों में से एक है, वह दूसरे मुख्य आरोपी सौरव चंद्राकर का सहयोगी है। दोनों का संबंध छत्तीसगढ़ के भिलाई शहर से है। रवि उप्पल भिलाई के दक्षिण गंगोत्री में टायर की दुकान चलता था। इसके अलावा जगह-जगह नलकूप खनन का काम भी किया करता था।

सट्टेबाजों को कांग्रेस सरकार में संरक्षण: डॉ. रमन
सट्टा किंग रवि उप्पल की गिरफ्तारी के बाद पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने X पर लिखा, ‘सट्टेबाजों का संरक्षण तब तक ही था जब तक कांग्रेस की सरकार थी, कांग्रेसी कुशासन के अंत के साथ ही अब अपराधियों के अंत की दिशा में छत्तीसगढ़ बढ़ चला है। हमारे छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार ने महादेव सट्टा एप का पौधा रोपा और ईडी की कार्रवाई के बीच छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार संरक्षण की दीवार बनकर खड़ी रही। उस कांग्रेसी कुशासन की दीवार गिरते ही, छत्तीसगढ़ में भाजपा की नई सरकार के शपथ ग्रहण से पहले ही महादेव सट्टा एप में हो रही गिरफ्तारी इस बात का प्रमाण है कि भाजपा के सुशासन में किसी भी तरह के अवैध कार्य करने वाला कोई नहीं बच पायेगा। अपराधी चाहे भिलाई में हो या साथ समंदर पार दुबई में जिसनें भी छत्तीसगढ़ को लूटा है उसे हथकड़ी में जकड़ कर क़ानून के सामने पेश होना होगा।’

भूपेश बघेल को 508 करोड़ देने का आया था वीडियो
ईडी की चार्जशीट में आरोप लगाया गया है कि रवि उप्पल और उसके सहयोगियों ने मिलकर करीब 6000 करोड़ रुपये का हेरफेर छत्तीसगढ़ में किया है। छत्तीसगढ़ में पुलिस की मिलीभगत और कुछ अन्य लोगों के माध्यम से नौकरशाहों और राजनेताओं को रिश्वत के पैसे पहुंचाए गए। बाद में ईडी के अनुरोध पर इंटरपोल द्वारा रेड नोटिस जारी किया गया था। जांच एजेंसियों ने आरोप पत्र में अदालत को बताया है कि उप्पल ने प्रशांत महासागर में द्वीप वानुअतु का पासपोर्ट लिया है, लेकिन उसने भारतीय नागरिकता नहीं छोड़ी है। वहीं पिछले दिनों एक वीडियो भी सामने आया था, जिसमें सुभम सोनी नाम के सख्श ने खुद को महादेव बैटिंग एप का मालिक होना बताया था। उन्होंने छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को 508 करोड़ रुपये देने की बात कही थी, जिसे भूपेश बघेल ने चुनाव को प्रभावित करने और सरकार की छवि खराब करने राजनीतिक से प्रेरित बताया था।

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here