33.2 C
Raipur
Friday, May 24, 2024

महादेव सट्टा ऐप मामलाः 14 मई तक पुलिस रिमांड में रहेंगे अर्जुन यादव सहित ये आरोपी, रडार पर कई ज्वेलरी कारोबारी

रायपुर. न्यूजअप इंडिया
छत्तीसगढ़ के बहुचर्चित महादेव सट्टा मामले में गिरफ्तार बर्खास्त पुलिस आरक्षक अर्जुन यादव को विशेष PMLA (प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट) कोर्ट ने 5 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। EOW की टीम ने पूछताछ के लिए कोर्ट में अर्जुन यादव को 5 दिन के लिए पुलिस रिमांड पर लेने का आवेदन लगाया था। शुक्रवार को दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाद कोर्ट ने उन्हें 14 मई तक के लिए पुलिस की रिमांड पर भजने का फैसला सुनाया है।

ACB-EOW के सूत्रों के हवाले से खबर है कि गिरफ्तार पुलिस आरक्षक अर्जुन यादव ने पूछताछ के दौरान कई बैंक अकाउंट में करोड़ों रुपये जमा होने का खुलासा किया है, जिसके बाद ACB-EOW की कई टीम ने रायपुर, दुर्ग-भिलाई, बलौदाबाजार, कांकेर और रायगढ़ समेत कई जिलों के बैंकों की जांच करने पहुंची। जिसके बाद अब बैंक खातों में पड़े करोड़ों रुपये फ्रीज करवाने की प्रक्रिया जारी है। हालांकि इसे लेकर अब तक आधिकारिक पृष्टि नहीं हुई है।

ACB ने 29 जगहों पर मारा था छापा
गुरुवार को ACB ने 29 जगहों पर छापा मारा था, जिसमें दुर्ग के 18, रायपुर के 7, बलौदाबाजर के 2, रायगढ़ के 1 और कांकेर के 1 जगह शामिल है। वहीं दुर्ग के सराफा व्यापारी प्रकाश सांखला को EOW द्वारा गिरफ्तार किए जाने की चर्चा है। प्रकाश सांखला पर महादेव सट्टा एप से जुड़े पैसे लेन-देन करने का आरोप है। महादेव सट्टे के धंधे में पहली बार सराफा कारोबारी की संलिप्तता सामने आई। कई बड़े ज्वेलरी कारोबारियों के ACB-EOW के रडार पर होने की बातें भी सामने आ रही है।

MP से गिरफ्तार हुआ था अर्जुन यादव
बता दें कि महादेव सट्टा मामले में गिरफ्तार बर्खास्त पुलिस आरक्षक अर्जुन यादव कई दिनों से फरार चल रहा था। उसे EOW की टीम ने मध्य प्रदेश के पचमढ़ी से गिरफ्तार किया है। अर्जुन यादव महादेव केस में रायपुर जेल में बंद निलंबित आरक्षक भीम यादव का भाई है। महादेव सट्टा मामले में नाम आने के बाद दुर्ग पुलिस में आरक्षक के पद पर तैनात अर्जुन यादव को एसपी ने निलंबित कर दिया था। भीम यादव को भी निलंबित किया जा चुका है।

आरोपियों से EOW-ACB पूछताछ कर रही
निलंबित ASI चंद्रभूषण वर्मा, सतीश चंद्राकर समेत हवाला कारोबारी सुनील दम्मानी को 14 मई तक न्यायिक रिमांड में जेल भेज दिया गया है। वहीं हवाला कारोबारी अमित अग्रवाल को 6 दिन यानि 14 मई तक दोबारा पुलिस रिमांड बढ़ाते हुए EOW की टीम के हवाले किया गया है। सभी गिरफ्तार आरोपियों से EOW पूछताछ कर रही थी। गुरुवार को 5 दिन की रिमांड खत्म होने पर स्पेशल कोर्ट में पेश किया था। कोर्ट ने दोनों पक्षों की सुनने के बाद फैसला सुनाया था।

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here