32.6 C
Raipur
Monday, May 20, 2024

‘लड़कियों से छेड़छाड़ और दुष्कर्म के आरोपियों को अब छत्तीसगढ़ में नहीं मिलेगी सरकारी नौकरी’

रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि महिलाओं, लड़कियों और बच्चियों से छेड़छाड़ करने वालों को अब सरकारी नहीं मिलेगी। महिलाओं की सुरक्षा, सम्मान एवं उनकी अस्मिता बनाये रखना हमारी पहली प्राथमिकता है। हम निर्णय लेने जा रहे हैं कि बच्चियों एवं महिलाओं से छेड़छाड़, दुष्कर्म आदि के आरोपियों को सरकारी नौकरियों पर प्रतिबंधित किया जायेगा। छेड़छाड़ करने वाले मनचलों का रिकॉर्ड रखा जाए और कैरेक्टर सर्टिफिकेट में इसका उल्लेख भी किया जाएगा।

सीएम भूपेश बघेल ने स्वतंत्रता दिवस पर रायपुर के पुलिस परेड ग्राउंड में कहा कि भारत की आजादी की लड़ाई से न्याय और लोकतंत्र का अमृत निकला। वास्तव में यह मानवता को तरह-तरह के अत्याचारों और अन्यायों से मुक्त कराने की बड़ी लड़ाई थी, जिसका संदेश पूरी दुनिया में गया। सीएम भूपेश ने कहा कि छत्तीसगढ़ के विकास मॉडल ने देश को दिखाई नई दिशा दिखाई है। सीएम साहित्यिक क्षेत्र में तीन श्रेणियों में छत्तीसगढ़ साहित्य अकादमी सम्मान देने की घोषणा की। पहली श्रेणी में छत्तीसगढ़ी तथा अन्य बोली जैसे गोंडी, हल्बी, सरगुजिया में लिखे गए साहित्य, दूसरी श्रेणी में हिंदी पद्य और तृतीय श्रेणी के अंतर्गत हिंदी गद्य…। हर श्रेणी में सम्मानित साहित्यकारों को 5 लाख रुपये दिए जाएंगे। सीएम ने रेशम कीट पालन, मधुमक्खी पालन को कृषि का दर्जा देने की भी घोषणा की है।

इंजीनियरिंग-मेडिकल की पढ़ाई करने कोचिंग
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि सरकारी स्कूलों के 11वीं और 12वीं के स्टूडेंट्स को इंजीनियरिंग और मेडिकल प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कराने हायर स्टडी सेंटरों से ऑनलाइन कोचिंग दी जाएगी। सभी जिलों में कम से कम एक कॉलेज में पोस्ट-ग्रेजुएट कक्षाओं में पढ़ाई की सुविधा मिलेगी। सरकारी कॉलेजों में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स को घर से कॉलेज आने-जाने के लिए निःशुल्क बस परिवहन की सुविधा भी सरकार द्वारा दी जाएगी।

पंजीकृत मजदूरों को 1500 रुपये हर माह पेंशन
सीएम भूपेश बघेल ने शहरी स्वच्छता दीदी और सामुदायिक संगठकों के मानदेय में 20% की बढ़ोत्तरी की घोषणा भी की। मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिक पेंशन सहायता योजना के तहत 60 वर्ष पूरी करने वाले तथा 10 साल तक पंजीकृत रहे मजदूरों को जीवनभर 1500 रुपये हर महीने पेंशन दी जाएगी। आईटीआई में कार्यरत संविदा प्रशिक्षण अधिकारियों को 25780 रुपये के बजाय अब 32740 रुपये तनख्वाह मिलेगी। वहीं मेहमान प्रवक्ताओं को अब हर महीने 15 हजार रुपये मिलेंगे। अंशकालीन सफाई कर्मी और मध्यान्ह भोजन से जुड़े रसोइयों के मानदेय में 500 रुपये वृद्धि भी की गई है।

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here