32.6 C
Raipur
Monday, May 20, 2024

‘19136 करोड़ पर थी कांग्रेस सरकार की नजर!’, OP चौधरी बोले- NPS के रुपये खा-पीकर बर्बाद करने का था इरादा, OPS पर यह दिया जवाब…

रायपुर. न्यूजअप इंडिया
छत्तीसगढ़ विधानसभा के छठवें दिन प्रश्नकाल में ओल्ड पेंशन स्कीम (OPS) का मामला जमकर गूंजा। भाजपा विधायक सुशांत शुक्ला और विधायक भावना बोहरा ने यह मामला उठाते हुए एक के बाद एक कई सवाल पूछे। जवाब देते हुए वित्त मंत्री ओपी चौधरी ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने इस योजना को लेकर शासकीय अधिकारियों और कर्मचारियों को ठगा है। उनकी नजर इस योजना के 19136 करोड़ रुपये पर टिकी थी। उनका इरादा इसे खा-पीकर बर्बाद करने का था।

विधानसभा में सत्ता पक्ष के विधायक सुशांत शुक्ला ने अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए NPS के स्थान पर OPS (ओल्ड पेंशन स्कीम) कब प्रारंभ की गई। OPS पेंशन के लिए क्या प्रावधान हैं। अपनी राशि केंद्र से राज्य सरकार को कब प्राप्त हुई? इस पर वित्त मंत्री ओपी चौधरी ने बताया कि पिछली सरकार ने NPS (नवीन अंशदायी पेंशन योजना) की जगह 1 नवंबर 2004 से OPS (पुरानी पेंशन योजना) को बहाल किया है। वित्त विभाग की अधिसूचना 11 मई 2022 और अधिसूचना 20 जनवरी 2023 को जारी की गई।

चौधरी ने बताया कि तत्कालीन सरकार ने NPS सिस्टम को समाप्त कर OPS सिस्टम लाया था। कर्मचारियों को कौन सी योजना अच्छी लग रही थी, कौन सी नहीं… ये उनका प्रश्न है। मुझे लगता है, तत्कालीन सरकार की गिद्ध दृष्टि 19 हजार 136 करोड़ रुपये पर थी। वो चाहते थे कि पैसा को रख लिया जाए। नियमानुसार वर्तमान में जो सरकार रहती है उसे एनपीएस के अनुसार 10 प्रतिशत देना रहता है। तत्कालीन सरकार 10% पैसा देना नहीं चाहती थी। केंद्र सरकार से नहीं बल्कि पीएफआरडीए से कुल राशि 19 हजार 136 करोड़ 81 हजार रुपये राज्य सरकार को प्राप्त होना है।

NPS में काटी गई राशि पर यह बोले चौधरी
विधायक भावना बोहरा ने पूछा कि OPS की सहमति देने वाले कर्मचारी और अधिकारियों के NPS खाते में नियमित राशि प्रतिमाह जमा नहीं होने पर उनके खातों को नियमित या जीवित रखने के लिए NPS में क्या प्रावधान है? वर्तमान में की जा रही राशि की कटौती और पूर्व में NPS योजना के तहत काटी गई राशि समायोजन के लिए क्या प्रयास करेंगे? NPS की राशि कब तक कर्मचारियों के खाते में जमा कराई जाएगी? क्या इसकी स्थापना हो चुकी है या भविष्य में होना है? इस पर वित्त मंत्री ओपी चौधरी ने बताया कि अभी तक स्थापना नहीं हुई है और इसके संबंध में कार्यवाही शीघ्र की जाएगी। भावना बोहरा ने पूछा कि OPS के तहत अब तक किसी भी कर्मचारी को पेंशन नहीं दी गई है… ऐसा क्यों? ओपी चौधरी ने कहा कि तत्कालीन सरकार ने नियम बनाया था। NPS की राशि जमा करने के बाद ही पेंशन दी जाएगी, लेकिन अब तक पैसा जमा ना किए जाने की स्थिति में ही कर्मचारियों को अब तक पैसा नहीं दिया गया है।

NPS और OPS में कौन सी योजना अच्छी!
विधानसभा अध्यक्ष डॉ. रमन सिंह ने कहा कि ओल्ड पेंशन स्कीम और न्यू पेंशन स्कीम के लिए सभी को छोटा सा नोट भिजवा दें, ताकि सभी विधायकों का कंफ्यूजन दूर हो सके। भावना बोहरा ने पूछा कि दोनों ही योजनाओं में कौन सी योजना ज्यादा बेहतर है। इस पर ओपी चौधरी वित्त मंत्री ने बताया, जो भारत की विकास यात्रा में बिलीव करते हैं वो NPS में बिलीव करते हैं। जिन्हें भारत की ग्रोथ स्टोरी पर बिलीव है, उसके हिसाब से एनपीएस ज्यादा उचित है।

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here