33.1 C
Raipur
Saturday, May 18, 2024

छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और राजस्थान में पर्यवेक्षक तय, विधायकों से मंत्रणा कर तय करेंगे मुख्यमंत्री का नाम, जानिए किसे कहां मिली जिम्मेदारी…

रायपुर. न्यूजअप इंडिया। छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के ऐतिहासिक जीत बाद मुख्यमंत्री चयन को लेकर मंथन का दौर जारी है। इस बीच भारतीय जनता पार्टी ने छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश और राजस्थान में पर्यवेक्षकों के नामों का ऐलान कर दिया है। ये सभी पर्यवेक्षक हर राज्य में वहां के विधायकों से बात करके मुख्यमंत्री के नाम का ऐलान करेंगे। भाजपा ने  ने रक्षामंत्री राजनाथ सिंह को राजस्थान का पर्यवेक्षक बनाया है। वहीं विनोद तावड़े और राज्यसभा सांसद डॉ. सरोज पांडेय को सहायक पर्यवेक्षक बनाकर भेजा है।

छत्तीसगढ़ के लिए पर्यवेक्षक केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, केंद्रीय मंत्री सर्वानंद सोनोवाल, राष्ट्रीय महासचिव दुष्यंत गौतम को पर्यवेक्षरक बनाया गया है। वहीं मध्य प्रदेश के लिए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर, ओबीसी मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के लक्ष्मण और राष्ट्रीय आशा लकड़ा को पर्यवेक्षक बनाया गया है। यह सभी नेता हिन्दी बेल्ट के तीनों राज्यों में मुख्यमंत्री के नामों के नामों को लेकर विधायकों के साथ मंथन करेंगे। इसके बाद सभी जगहों पर मुख्यमंत्री के नामों का ऐलान कर दिया जाएगा।

तीन राज्यों में इन नामों की चर्चा
छत्तीसगढ़ से मुख्यमंत्री चेहरे के लिए जिन नामों की चर्चा है, उनमें पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष और सांसद अरुण साव, आईएएस की नौकरी से इस्तीफा देकर राजनीति में आए ओपी चौधरी, पूर्व केंद्रीय मंत्री विष्ष्णु देव साय और केंद्रीय राज्य मंत्री रेणुका सिंह का नाम प्रमुख है। इन नामों के अलावा रामविचार नेताम, रायपुर से 8 बार के विधायक बृजमोहन अग्रवाल, बस्तर में पार्टी का बड़ा आदिवासी चेहरा केदार कश्यप का नाम शामिल है। कुल 20 चर्चित नाम हैं, जिसमें से मुख्यमंत्री, विधानसभा अध्यक्ष, डिप्टी सीएम और मंत्री बनाए जाएंगे। इसी तह छत्तीसगढ़ के अलावा राजस्थान में सांसद योगी बालकनाथ (अभी विधायक बने) और पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का नाम है। वहीं मध्य प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान ही मुख्यमंत्री बनाए जाएंगे ऐसी चर्चा है।

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here