29.1 C
Raipur
Sunday, July 14, 2024

उज्जैन में ऑनलाइन सट्टा गैंग का भंडाफोड़, पाउंड और डॉलर समेत 15 करोड़ रुपये से ज्यादा कैश बरामद, 9 गिरफ्तार

उज्जैन. न्यूजअप इंडिया
मध्य प्रदेश की उज्जैन पुलिस ने एक घर में छापा मारकर सटोरियों से 15 करोड़ रुपये जब्त किए हैं। इनमें पांच-पांच सौ के नोटों की 3000 गडि्डयां हैं। इसके अलावा 7 किलो चांदी और 7 देशों की विदेशी मुद्रा भी जब्त की गई है। पुलिस रातभर नोट गिनती रही। मध्य प्रदेश के इतिहास में सट्टे के खिलाफ अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई बताई जा रही है। पुलिस ने ऑनलाइन एप्लीकेशन का उपयोग करने वाले 9 सट्टेबाजों को भी गिरफ्तार किया। पुलिस ने आरोपियों के पास से 41 मोबाइल, 19 लैपटॉप, 5 मैक-मिनी, 1 आईपैड, 2 पेन ड्राइव, 3 मेमोरी सहित बरामद किया है। गिरफ्तार आरोपी पंजाब, राजस्थान और मध्यप्रदेश के रहने वाले हैं। जिनके तार राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर से जुड़े हैं।

पुलिस महानिरीक्षक संतोष कुमार सिंह ने बताया कि टीम को गुरुवार को सूचना मिली कि नीलगंगा थाना क्षेत्र स्थित 19 ड्रीम्स कॉलोनी के ड्यूप्लेक्स नं 18 में पीयूष चोपड़ा के साथ पंजाब, राजस्थान और मध्य प्रदेश के कुछ लोग कई दिनों से व्यापक स्तर में अंतरराष्ट्रीय सट्टा खिला रहे हैं। सूचना पर उप पुलिस अधीक्षक क्राइम योगेश तोमर ने पुलिस टीम के साथ दबिश दी। यहां टी-20 वर्ल्ड कप के बांग्लादेश और नीदरलैंड का मैच पर खाई/लगाई करते आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए 9 आरोपियों में से एक राजस्थान, चार पंजाब और चार नीमच के रहने वाले हैं। थाना नीलगंगा में आरोपियों के विरूद्ध धारा 419, 420, 467, 468, 109,120 बी भादवि, 3/4 पब्लिक गेम्बलिंग एक्ट तथा 66 डी आईटी एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है। वहीं आरोपी पीयूष परिवार के साथ लाटविया देश भागने की फिराक में था। ऐसे में अब उसके खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी कराया जा रहा है।

इन देशों की करेंसी और चांदी की जब्त
नगर पुलिस अधीक्षक नानाखेडा श्वेता गुप्ता, थाना प्रभारी खाराकुआ मधु राठौर और थाना खाराकुआ पुलिस टीम द्वारा मुखबिर के बताए स्थान पर दबिश दी गई, जहां पर तलाशी के दौरान भारी मात्रा में नकदी और अंतरराष्ट्रीय करेंसी, चांदी की सिल्लियां, एप्पल मेक मिनी सीपीयू, 19 लैपटॉप सहित अलग-अलग रंग के 11 बैगों में भारतीय रुपये कुल 14 करोड़ 98 लाख रुपये नकद के साथ भारी मात्रा में अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा जो कि कनाडा, संयुक्त अरब अमीरात, यूरो, पाउण्ड, यूएस डॉलर, हंगरी यूरो, पॉलिश मुद्रा, नेपाली रुपये आदि जब्त की गई है।

ज़ूम एप पर ऑनलाइन चलता था मार्केट
वर्ल्ड कप के पूरे मैच के दौरान बुकी और ग्राहक के बीच zoom meeting ऐप और Sim Todo. Apk एप्लीकेशन द्वारा लाइव कनेकटीविटी थी। बुकी और ग्राहक के बीच लाइव कम्युनिकेशन में रहते थे और खाई-लगाई कर धंधा बोला जाता था। एक बार में एक लाइन पर 50 हजार रुपये से 25 लाख रुपये तक का व्यापार किया जाता था। व्यापार कितने रुपये का किया जाना है, यह पीयूष चोपड़ा के द्वारा फंटरो को बताया दिया जाता था। उसके बाद फंटर बुकीज़ को धंधा में उतारते हैं। इस तरह एक मैच में करोड़ों रुपयों की हार-जीत की बाजी लगाई जाती थी।

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here