32.6 C
Raipur
Monday, May 20, 2024

मास्टर माइंड चोर लोकेश को दबोचने पुलिस ने खंगाले 300 CCTV फुटेज, घर और रिश्तेदारों के यहां लगाया पहरा तब पकड़ाया आरोपी

बिलासपुर.न्यूजअप इंडिया
दिल्ली में गंजपुरा के ज्वेलरी शॉप और बिलासपुर के 10 दुकानों में हुई चोरी के आरोपी छत्तीसगढ़ पुलिस की पकड़ में आए हैं। दुर्ग पुलिस ने शातिर चोर लोकेश श्रीवास को गिरफ्तार किया है। आरोपी लोकेश श्रीवास दिल्ली में चोरी करने के बाद भिलाई के स्मृति नगर थाना क्षेत्र में किराए के घर में छिपा था। आरोपी को दुर्ग, रायपुर और बिलासपुर पुलिस के साथ दिल्ली पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई कर पकड़ा है। लोकेश श्रीवास के पास से 18.5 किलो सोना जब्त किया है। वहीं लोकेश के साथी शिवा चंद्रवंशी को बिलासपुर पुलिस ने कवर्धा से गिरफ्तार किया है। आरोपी को गिरफ्तार करने 300 सीसीटीवी फुटेज खंगाले गए। वहीं आरोपी को पकड़ने उसके घर में टीम को तैनात किया गया था।

बिलासपुर एसपी संतोष कुमार ने मीडिया में खुलासा करते हुए बताया कि 19 सितंबर को श्रीराम क्लाथ मार्केट स्थित 5 दुकान और 25 अगस्त को सत्यम चौक से अग्रसेन चौक के बीच स्थित 5 बड़ी दुकानों कुल 10 दुकानों में अज्ञात चोर द्वारा चोरी की घटना को अंजाम दिया गया था। इन बड़ी चोरियों को लेकर मुखबिर तंत्र को लगाया गया। लगभग 300 सीसीटीव्ही फुटेज को खंगालने पर आरोपी जिला कबीरधाम का निवासी होना पाया गया। आरोपी को पकड़ने एक टीम आरोपी के घर और रिश्तेदारों के घरों के आसपास लगाया गया था। 28 सितंबर को घटना के मुख्य आरोपी लोकेश श्रीवास अपने साथी शिवा चन्द्रवंशी के साथ अपने निवास के आसपास दिखाई दिया।

आरोपियों के कब्जे से 23 लाख रुपये कैश मिला
एसपी संतोष कुमार ने बताया कि सूचना पर रेड कार्यवाही की गई, जहां पर उसका सहयोगी शिवा चन्द्रवशी (23 वर्ष) निवासी गायत्री मंदिर के पास कवर्धा मिला। मुख्य आरोपी लोकेश श्रीवास घर की खिड़की से कूद कर भाग गया था। शिवा चंद्रवंशी को हिरासत में लेकर कड़ाई से पूछताछ की गई, जिस पर वह टूट गया। उसने बताया कि सभी घटनाओं को लोकेश श्रीवास को साथ मिलकर अंजाम दिया है। आरोपी के कब्जे से लगभग 23 लाख रुपये की ज्वेलरी बरामद की गई है। मुख्य आरोपी लोकेश श्रीवास को बिलासपुर पुलिस की एसीसीयू सिविल लाइन थाने के टीम ने भिलाई के स्मृतिनगर थाना के किराये के मकान से घेराबंदी कर दिल्ली पुलिस के सहयोग से पकड़ा गया है।

बिलासपुर की इन दुकानों को बनाया था निशाना
एसपी संतोष कुमार ने बताया कि आरोपी से बिलासपुर के विभिन्न मामलों में चोरी गए 12 लाख 50 हजार रुपये नगदी और साढ़े 18 किलो सोना के जेवरात और हीरे बरामद किए गए हैं। लोकेश श्रीवास ने कुछ दिनों पहले दिल्ली में हुई बड़ी चोरी की घटना में शामिल होना बताया। थाना सिविल लाइन क्षेत्र अंतर्गत श्रीराम क्लाथ मार्केट स्थित 5 दुकानों पूजा गीन अपार्टमेंट, संस्कृति रेडिमेट शोरूम, नरेश फैशन, श्रीराम क्लाथ स्टोर तथा सत्यम चौक से अग्रसेन चौक के बीच स्थित 5 दुकानी प्लेटिनम शू-मॉल, बासुरी मैचिंग सेंटर मान्यवर शोरूम, कामेश टेडर्स, एवं टाईम पैलेस, में चोरी की घटना को अंजाम देना बताया है।

तीन साल पहले पारख ज्वेलर्स में किया था वारदात
बता दें कि छत्तीसगढ़ सहित देशभर में घूम-घूमकर चोरी की बड़ी वारदातें करने वाला लोकेश श्रीवास छत्तीसगढ़ के कवर्धा का रहने वाला है। भिलाई के सुपेला में उसकी ससुराल है।‌ तीन साल पहले 12 फरवरी 2020 को उसने ससुराल में रहकर रेकी करने के बाद आकाशगंगा मार्केट स्थित पारख ज्वेलर्स में लगभग 3 करोड़ की चोरी को अंजाम दिया था। दो दिन बाद 14 फरवरी 2020 को पुलिस ने दुर्ग बस स्टैंड के रैन बसेरा से गहनों सहित गिरफ्तार कर लिया था। लोकेश श्रीवास को लेकर पुलिस ने बताया कि वह आदतन चोर है और चोरी के कई प्रकरणों में जेल की हवा खा चुका है। वह जेल से छूटता है और फिर चोरी करता है। वह ज्वेलरी शॉप को हमेशा निशाना बनाता है। लोकेश श्रीवास की बिलासपुर एवं राजनांदगांव पुलिस को भी तलाश थी।

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here