33.1 C
Raipur
Saturday, May 18, 2024

नक्सलियों के IED ब्लास्ट की चपेट में आए 2 मजदूरों की मौत, एक गंभीर रूप से घायल, इलाके में दहशत, सर्चिंग ऑपरेशन जारी

नारायणपुर. न्यूजअप इंडिया
छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बस्तर संभाग के कई जिलों में माओवादी घटनाएं लगातार बढ़ रही है। फोर्स को नुकसान पहुंचाने प्लांट किए गए आईईडी की चपेट में आने से जवान और आम नागरिक घायल हो रहे हैं। शुक्रवार को नारायणपुर में आईईडी (Improvised Explosive Device) की चपेट में तीन मजदूर आ गए, जिसमें दो की मौत हो गई, वहीं एक गंभीर रूप से घायल है। घायल को बेहतर उपचार के लिए नारायणपुर रेफर किया गया है। यह मामला छोटेडोंगर थाना क्षेत्र का बताया जा रहा है।

मिली जानकारी के अनुसार, छोटेडोंगर क्षेत्र के अमदई स्थित निको माइंस में सुबह काम करने मजदूर निकले थे। तभी नक्सलियों द्वारा प्लांट किये गए आईईडी की चपेट में तीन मजदूर आ गए। विस्फोट में दो मजदूरों की मौत हो गई, जबकि एक घायल है। आमदई निको माइंस के मजदूर जंगल की तरफ काम पर जा रहे थे, तभी एक मजदूर का पैर पड़ा प्रेशर बम पर पड़ गया। सुरक्षा बल के जवानों को नुकसान पहुंचाने नक्सलियों ने आईईडी प्लांट किया था। घटना के बाद इलाके में दहशत है।

घटना की सूचना के बाद इलाके में सर्चिंग बढ़ा दी गई है। पुलिस भी मौके पर पहुंच गई है। मृतकों में रितेश गागड़ा (21 वर्ष) और श्रवण गागड़ा (24 वर्ष) बताए हैं। वहीं गंभीर रूप से घायल मजदूर उमेश राणा को नारायणपुर शिफ्ट किया गया गया है। IED विस्फोट में घायल मजदूर के सिर में चोट आई है। ऐसा बताया जा रहा है कि कुछ दिनों पहले नक्सलियों ने मजदूरों को काम नहीं करने की हिदायत भी दी थी। बता दें कि बस्तर संभाग के संवेदनशील सुकमा, बीजापुर, दंतेवाड़ा में लगातार टिफिन बम मिल रहे हैं। फोर्स के जवानों को नुकसान पहुंचाने नक्सलियों ने जगह-जगह आईईडी प्लांट किए हैं।

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here