38.1 C
Raipur
Thursday, June 13, 2024

BJP ने बस्तर में खोजा जीत का फार्मूला, 5 विधानसभा को साधने आमाबाल में प्रधानमंत्री की सभा, बस्तर के जोगी से भी मिलेंगे मोदी

रायपुर. न्यूजअप इंडिया
छत्तीसगढ़ में बस्तर की सियासी बिसात पर शह-मात का खेल शुरू हो गया है। भाजपा-कांग्रेस के नेता जोर आजमाइश में जुट गए हैं। दोनों दलों के स्टार प्रचारकों के दौरे भी शुरू हो चुके हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को बस्तर दौरे पर आ रहे हैं। वे भानपुरी बस्तर के छोटे आमाबाल में विजय संकल्प शंखनाद रैली को संबोधित करेंगे। छोटे आमाबाल बस्तर लोकसभा की पांच विधानसभाओं बस्तर, नारायणपुर, जगदलपुर, कोंडागांव और चित्रकोट को कवर करती है।

पीएम नरेंद्र मोदी के बस्तर दौरे को लेकर भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं में जमकर उत्साह है। नारायणपुर विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत आमाबाल में 8 अप्रैल को पीएम नरेंद्र मोदी आमसभा को करेंगे। जिस गांव में यह सभा होने जा रही है उसी गांव में स्थानीय ग्रामीण भी प्रधानमंत्री के आने को लेकर खुश हैं। पीएम मोदी इस दौरान गांव के जोगी परिवार से मुलाकात करेंगे। बस्तर में 600 सालों से अधिक समय से दशहरे के दौरान राजा की जगह 9 दिनों तक जोगी परिवार देवी उपासना करता है। जोगी परिवार इस बात से उत्साहित है कि नरेंद्र मोदी से पहली बार उन्हें मिलने का मौका मिलेगा। साथ ही यह उम्मीद भी है कि दशकों से उनकी जातिगत पहचान की समस्या शायद दूर हो जाए।

जोगी समुदाय से होगी पीएम की मुलाकात
दरअसल, जोगी समुदाय से प्रधानमंत्री की मुलाकात होगी, यह जोगी समुदाय वर्षों से राज परिवार की परंपरा का सहभागी होने की तकलीफ झेल रहा है। दरअसल 1913 में सरकारी सर्वे के दौरान इन जोगी परिवार के लोगों के नाम के आगे जोगी जाति लिख दी गई। जिसकी वजह से उनकी आदिवासी पहचान खो गई। अनुसूचित जनजाति सूची में जोगी का कोई स्थान नहीं है और सैकड़ों सालों से इस एक छोटी सी गलती का खामियाजा जोगी परिवार उठा रहा है।

राज परिवार की परंपरा का निर्वहन कर रहे
जोगी समुदाय से ताल्लुक रखने वाले ग्रामीणों का कहना है कि वे सैकड़ो सालों से बस्तर में निवास करते हैं। राज परिवार की परंपरा का निर्वहन करने की वजह से उन्हें जोगी की उपाधि दी गई थी, लेकिन इस उपाधि को जाति के रूप में दर्ज कर दिया गया। यह बाद में उनके लिए ही परेशानी का कारण बन गई है। जोगी नाम दर्ज होने से जनजाति वर्ग को मिलने वाले लाभ से वंचित होना पड़ रहा है। पीढ़ी दर पीढ़ी वे आरक्षण का लाभ नहीं ले पा रहे हैं। मोदी के दौरे के साथ जोगी समुदाय उत्साहित है कि शायद सालों से जो फरियाद उनकी किसी ने सुनी नहीं मोदी जी सुन ले।

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here